मंगलौर पालिका में एक्सपायरी डेट का कीटनाशक मिलने से मचा हड़कंप,जांच के आदेश

आरिफ नियाज़ी

मंगलौर पालिका में एक्सपायरी डेट का कीटनाशक…. : मंगलौर नगर पालिका परिषद किसी ना किसी मामले को लेकर अक्सर चर्चाओं में रहती है इस बार पालिका पर एक्सपायरी डेट की कीटनाशक दवाईयों और सैनेटराइज़ का बड़ा मामला सामने आने से पालिका प्रबन्धन में भी हड़कंप मचा हुआ है। ये आरोप पालिका के आधा दर्जन पार्षदों ने लगाए है। सूचना मिलते ही अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे सैक्टर मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार सैनी ने बारीकी से जांच की। जांच करने पर सैक्टर मजिस्ट्रेट को मौके से कीटनाशक की लगभग सात बोतलें एक्सपायरी डेट की मिली है जिसे देखकर सैक्टर मजिस्ट्रेट के भी होश उड़ गए।

मंगलौर पालिका में एक्सपायरी डेट का कीटनाशक?

मंगलौर पालिका में एक्सपायरी

हालांकि मौके से कुछ खाली बोतलें भी मिली है जिन पर कोई तिथि या रैपर तक भी नहीं है जिसके बाद सैक्टर मजिस्ट्रेट ने सभी खाली और भरी हुई बोतलों को मौके पर ही सील कर जांच तेज़ कर दी है । इससे पूर्व आधा दर्जन पार्षदों ने कीटनाशक दवाईयों पर एक्सपायरी डेट का आरोप लगाकर पालिका में पहुंचकर जमकर हंगामा काटा था और इसकी सूचना रूडकी एसडीएम को दी थी। हालांकि सभासदों ने इस दौरान पालिका कर्मचारियों को खूब खरी खोटी भी सुनाई थी। वहीं नगर पालिका के ई. ओ. शाहिद अली का कहना है कि किसी तरह की कोई भी दवाई एक्सपायरी नहीं है नगर पालिका ई ओ मोहम्मद शाहिद अली ने बताया कि जो दवाई एक्सपायरी डेट की बताई जा रही है वो 2015 की फॉगिंग की इस्तेमाल वाली है जो पुराने स्टोर में सुरक्षित तरीके से रखी गई थी जिसका कोई उपयोग नहीं हो सकता। आज कस्बे में जगह जगह सैनेटराइज़ किया जा रहा है। नालियों में नोआन जैसी कीटनाशक दवाई का लगातार छिड़काव किया जा रहा है जबकि सोडियम हाइपोक्लोराइड जैसी दवाई का छिड़काव भी लगातार जारी है कुछ बोतलों के रैपर हट गए थे जिनकी जांच कराई जा रही है।

मंगलौर पालिका में एक्सपायरी

उन्होंने बताया कि पालिका के कुछ सभासदों को कुछ भ्रांतियां हुई हैं पूरे मामले की जांच पालिका के सफाई निरीक्षक आदेश कुमार को सौंप दी गई है जो भी कर्मचारी इसमें दोषी पाया जाएगा उस पर कठोर कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया की स्टोर कीपर समेत सम्बंधित कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस भी जारी कर दिया गया है।गौरतलब है कि इस मामले में सभी गुस्साये पार्षदों ने प्रदेश के मुख्यमंत्री और डीएम हरिद्वार को पत्र भेजकर शिकायत की है। वहीं पालिका चैयरमैन के प्रतिनिधि डॉक्टर शमशाद ने भी मामले को गंभीरता से लेते हुए समन्धित कर्मचारियों पर कार्यवाही का आश्वासन दिया है। शमशाद ने पालिका कर्मचारियों पर जमकर हमला बोला उन्होंने कहा कि अगर कोई भी कर्मचारी या स्टोर प्रभारी इस मामले में दोषी पाए गए तो उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी।उन्होंने दावा किया कि मंगलौर नगर पालिका पूरी मुस्तैदी के साथ करोना जैसी महामारी के खिलाफ जंग लड़ रही है जगह जगह सैनेटराइज़ किया जा रहा है।

मंगलौर पालिका में एक्सपायरी

साफ सफाई का विशेष ध्यान रखा जा रहा है उन्होंने कहा कि कुछ पालिका के सभासदों ने इसकी शिकायत की थी जिसे उन्होंने गंभीरता से लिया है लेकिन सभासदों को ये भी जानकारी होना बेहद आवश्यक है कि सैनेटराइज़ करने वाली दवाई सोडियम हाइपोक्लोराइड पूरे देश और प्रदेश में खरीदी गई है करोना जैसी महामारी की रोकथाम के लिए इस दवाई का छिड़काव किया जा रहा है नगर पालिका मंगलौर में पहली बार ही ये दवाई आई है। सभासदों को कोई ना कोई भ्रांति ज़रूर रही होगी जिसकी जांच गंभीरता से कराई जा रही है।इस मौके पर तरुणसिंघल,जुल्फकार,इंजमामुल हक़उर्फबाबू,अबरारखान,अहसान शहजाद,इलताफात, औरअनीस आदि सभासद मौजूद रहे।

मंगलौर पालिका में एक्सपायरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.