डॉक्टर एन डी अरोड़ा ने कोरोना जैसी महामारी को लेकर क्या कहा

आरिफ नियाज़ी

डॉक्टर एन डी अरोड़ा….. : रूडकी एक तरफ जहां पूरे देश मे कोरोना माहमारी के चलते लोग बेहद दहशत में हैं वहीं शहर के हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ एन डी अरोड़ा ने कोरोना जैसी बीमारी से बचने के लिए लोगों को कुछ खास उपाय बताए हैं डॉक्टर एन डी अरोड़ा का वैसे तो अपना आवास विकास में क्लिनिक है लेकिन वो समय समय पर सरकारी अस्पतालों में भी अपनी सेवाएं देते रहते हैं इस समय डॉक्टर एन डी अरोड़ा मंगलौर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर लोगों की सेवा करने में जुटे हैं।

डॉक्टर एन डी अरोड़ा

उनका मानना है कि कोरोना एक बेहद खतरनाक बीमारी है जिससे व्यक्ति सावधानी रखकर ही बच सकता है। डॉक्टर अरोड़ा ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि उनको ज्यादा से ज्यादा सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना चाहिए घर से बाहर निकलते समय मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करें। तभी इस बीमारी को दूर भगाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि कुछ कुछ देर बाद अपने हाथों को सैनिटाइज करते रहना चाहिए क्योंकि इस बीमारी का वायरस सबसे पहले हाथों पर प्रभाव डालता है। उन्होंने बताया कि कोरोना जैसी महामारी से बचने के लिए कोई वैक्सीन तैयार नहीं हुई है लेकिन केवल कुछ उपाय करने से ही इस बीमारी से बचा सकता हैं।

डॉक्टर एन डी अरोड़ा ……

डॉक्टर एन डी अरोड़ा खास तौर से वृद्ध मरीजों को प्राथमिकता के साथ हॉस्पिटल में देखते हैं इसीलिए उनके पास ऐसे मरीज़ों की अक्सर भीड़ रहती है। डॉक्टर एनडी अरोड़ा ने बताया की अगर लोग अपनी इम्यूनिटी शक्ति को मजबूत रखें तो कोरोना जैसी बीमारी का उन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। इस इम्यूनिटी पॉवर को मजबूत कुछ दूसरे तरीकों से भी रखा जा सकता है जैसे कि घर में हर समय काम आने वाले जैसे आयुर्वेदिक नुस्खे जैसे प्याज़,लहसुन काढ़ा,अदरक लॉन्ग काली मिर्च आदि के सेवन से भी इम्युनिटी पॉवर को बढ़ाया जा सकता है।

उन्होंने एक खास बात बताई की खाना जब भी बनाएं तो उसे तेज़ आंच में ज्यादा से ज्यादा उबालें और साफ सफाई के साथ बनाएं। डॉक्टर एन डी अरोड़ा ने बताया कि प्लाज़्मा थैरेपी और वैक्सीन का अभी भी कोई पुख्ता उपचार इस बीमारी में कारगर नहीं है। इस बीमारी से बचने के लिए सावधानियां ही अधिक ज़रूरी हैं। अगर लोग भीड़ में जाने से बचें,अपना तौलिया साफ रखें, समय समय पर हाथों को अच्छे एन्टीसेप्टिक साबुन से खूब धोएं,छींकते समय नाक पर रुमाल या टिशू पेपर का इस्तेमाल करें,बार बार अपने हाथों पर सैनिटाइजर का प्रयोग करते रहें,

मास्क का प्रयोग करें और खाना अच्छी तरह से पकाएं और बाहर से लौटकर अपने कपड़े तुरंत बदलले तो इस महामारी से बचा जा सकता है ।डॉक्टर एन डी अरोड़ा ने बताया कि कोरोना वायरस सबसे अधिक गले और फेफड़ों पर प्रभाव डालता है इसलिए हाथ बिल्कुल ना मिलाएं। उन्होंने कहा कि वो समय समय पर लोगों को जागरूक करते रहेंगे।

One thought on “डॉक्टर एन डी अरोड़ा ने कोरोना जैसी महामारी को लेकर क्या कहा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.