उत्तराखंड माध्यमिक शिक्षक संघ की प्रांतीय बैठक का ऑनलाइन आयोजन किया गया।

आरिफ नियाज़ी

प्रान्तीय अध्यक्ष डॉ. अनिल शर्मा की अध्यक्षता एवं प्रान्तीय महामंत्री जगमोहन सिंह रावत के संचालन में संपन्न बैठक में अनेक महत्त्वपूर्ण निर्णय लिए गए। बैठक में पूर्व प्रान्तीय उपाध्यक्ष सत्यपाल सिंह नेगी को अनुशासनहीनता के आरोपों में प्रान्तीय उपाध्यक्ष के दायित्व से मुक्त किये जाने की सूचना भी दी गई। प्रान्तीय अध्यक्ष डॉ. अनिल शर्मा ने कहा की पुरानी पेंशन योजना बहाली के लिए संगठन ने सांसदों, विधायकों एवं अन्य जनप्रतिनिधियों को पत्र देने का कार्यक्रम तय किया गया था ताकि इन जनप्रतिनिधियों द्वारा मा0 प्रधानमंत्री और प्रदेश के मा0 मुख्यमंत्री को पुरानी पेंशन योजना बहाली के समर्थन में पत्र भेजे जा सके।

उन्होंने कहा की अभी कोरोना की विषम परिस्थितियों के कारण यह अभियान अपेक्षित गति से नहीं चल पाया है। फिर भी हरिद्वार, अल्मोड़ा और बागेश्वर जनपदों में विधायकों को संगठन के कार्यकर्ताओं ने पत्र सौंपे हैं और उनसे मा0 प्रधानमंत्री और मा0 मुख्यमन्त्री को पत्र भिजवाए गए हैं। गत 25 अगस्त को सचिवालय में माननीय शिक्षा मंत्री, शिक्षा सचिव एवं निदेशक के साथ संपन्न बैठक में 17 बिंदुओं पर प्रगति के संबंध में प्रांतीय अध्यक्ष ने बताया की शिक्षा सचिव के कोरोना पॉजिटिव होने के कारण अभी तक बैठक का कार्यवृत्त नहीं आ पाया है।

उत्तराखंड माध्यमिक

उन्होंने शिक्षा सचिव के शीघ्र स्वस्थ होने पर मा0 शिक्षा मंत्री जी के निर्देशानुसार अनेक बिंदुओं पर प्रगति की उम्मीद जताई। प्रांतीय महामंत्री जगमोहन सिंह रावत ने बताया की स्वतः सत्र लाभ, चयन-प्रोन्नत वेतनमान, पेंशन निर्धारण, ग्रेच्युटी आदि में तदर्थ सेवाओं की गणना, जूनियर हाई स्कूलों में वित्त विहीन सेवाओं का लाभ, उच्चीकृत हुए स्कूलों के शिक्षकों को चयन और प्रोन्नत वेतनमान में जूनियर की सेवा का लाभ , 2016 में अनुदानित हुए विद्यालयों के 2005 से पूर्व नियुक्त शिक्षकों एवं कर्मचारियों की जी0पी0एफ0 कटौती और 2005 के बाद नियुक्ति वालों की एन0पी0एस0 कटौती, 2014 के बाद नियुक्त शिक्षकों की सामूहिक बीमा धनराशि की कटौती, एन0पी0 एस0 कटौती का धन सीधे शिक्षकों के प्रान खाते में जाये, चयन-प्रोनन्त वेतनमान पर एक वेतन वृद्धि, अद्यतन समस्त तदर्थ शिक्षकों का विनियमतिकरण, रू 10000 मानदेय प्राप्त पी0टी0ए0 शिक्षकों की तदर्थ नियुक्ति आदि बिंदुओं पर मा0 शिक्षा मन्त्री जी के आदेश के क्रम में शीघ्र ही शिक्षा सचिव और शिक्षा निदेशक के साथ संयुक्त रूप से बैठक की जाएगी।

अशासकीय विद्यालयों का वेतन सही समय पर ना मिलने और अत्यधिक विलंब होने पर प्रांतीय बैठक में शिक्षक प्रतिनिधियों ने रोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा की अशासकीय विद्यालयों के शिक्षकों और कर्मचारियों के साथ सरकार और शासन सौतेला व्यवहार करते हैं। चार महीने का वेतन देय होने पर भी केवल तीन माह का बजट जारी किया गया है। बैठक में तय किया गया कि अगले महीनों के वेतन का बजट शीघ्रता शीघ्र जारी किया जाए और नवीन अनुदानित विद्यालयों के अनुदान से किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ न की जाए। अन्यथा की स्थिति में संगठन को प्रदेश व्यापी आंदोलन चलाने को मजबूर होना पड़ेगा।

बैठक में जिलाध्यक्ष हरिद्वार राजेश सैनी के प्रस्ताव पर सर्वसम्मति से यह भी तय हुआ कि वर्ष 2019-20 और 2020-21 की संगठन की सदस्यता एक साथ ली जाए। बैठक में प्रांतीय पदाधिकारियों , सदस्यों, जिलाध्यक्षों और जिलामन्त्रियों को सूचित किया गया कि 5 जुलाई की प्रांतीय बैठक में लिए गए निर्णय (संगठन के पदाधिकारियों और सदस्यों की अनुशासनहीनता पर कड़ा फैसला लिया जाए) के क्रम में पूर्व प्रांतीय उपाध्यक्ष सत्यपाल सिंह नेगी को उनके दायित्व से मुक्त कर दिया गया है।

उनके अनुशासनहीनता के कृत्यों के दृष्टिगत अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए सलाहकार समिति के प्रांतीय संयोजक ई0 वी0 कुमार की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय समिति बनाई गई है। जिसके अन्य दो सदस्य उधमसिंहनगर के जिलाध्यक्ष स्वतंत्र मिश्रा और रुद्रप्रयाग के जिलाध्यक्ष सुखदेव सिंह रावत होंगे। बैठक में सलाहकार समिति के प्रांतीय संयोजक ई0 वी0 कुमार, प्रान्तीय कोषाध्यक्ष लीलाधर पन्तोला, सलाहकार समिति के वरिष्ठ सदस्य अविनाश शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष विजय प्रधान व प्रदीप त्यागी, प्रदेश मंत्री महावीर सिंह मेहता व राम कुमार चौहान, पूर्व प्रान्तीय कोषाध्यक्ष कुँवर पाल सिंह चौहान, प्रदेश प्रवक्ता अशोक शर्मा “आर्य”, आई0 टी0 प्रदेश प्रभारी संजय सिंह रावत, जिलाध्यक्षो में हरिद्वार से राजेश सैनी, पौड़ी से डॉ. महावीर सिंह बिष्ट, उधमसिंहनगर से स्वतंत्र मिश्रा, अल्मोड़ा से गणेश भट्ट, टिहरी से महादेव सिंह मैठाणी चमोली से दिगपाल सिंह गड़िया, रुद्रप्रयाग से सुखदेव सिंह रावत, चंपावत से के0 एस0 मेहर, जिला मंत्रियों में हरिद्वार से जितेंद्र सिंह पुंडीर,

उधमसिंहनगर से अजय शंकर कौशिक, भारत सिंह बिष्ट पौड़ी, जगदीश चौहान चमोली, कीरत सिंह नेगी रुद्रप्रयाग, विनोद पांडे अल्मोड़ा, शैलेंद्र चौधरी नैनीताल, प्रकाश सिंह बागेश्वर, मनीष कुमार पिथौरागढ़, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्यों में अनिल सिंह नेगी, सतीश चंद्र, प्रदीप पाण्डेय, वीरेंद्र सिंह प्रभु, विकास सैनी, मनोज सैनी, दिनेश पाण्डेय, मनोज सिंह कण्डारी, आर0 गुसांई, शैलेन्द्र नौटियाल, संजय कार्की, अनिल चमोली, समय सिंह सैनी, विपिनेश कुकरेती, कैलाश चन्द्र पोखरियाल, कौशलेश कुमार, तनु कोटियाल आदि अनेक प्रान्तीय कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.